Health Benefits Of Eating Kiwi In Winters

कीवी में भरपूर मात्रा में विटामिन होता है. जो स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद होता है. अब सवाल यह उठता है कि आप किन कारणों से विंटर में कीवी खाना चाहिए. क्योंकि कीवी ठंडा होता है तो आज हम जानेंगे ठंड में इसे खाने का सही तरीका. विंटर में कोल्ड-कफ काफी ज्यादा परेशा न करता है. ऐसे में कीवी आपको इससे बचा सकती है. क्योंकि कीवी में भरपूर मात्रा में विटामिन सी होता है. 

विटामिन सी से भरपूर

कीवी विटामिन सी का एक पावरहाउस है. इसमें जरूरी के पोषक तत्व होते हैं. जो इम्युनिटी को मजबूत करती है.  सर्दियों में अगर आप सही से विटामिन सी खाएंगे तो कोल्ड-कफ और फ्लू की बीमारी से बचे रहेंगे. 

इम्युनिटी होती है मजबूत

विटामिन सी के अलावा, कीवी में विटामिन के, विटामिन ई और एंटीऑक्सिडेंट होते हैं जो इम्युनिटी को मजबूत बनाती है. साथ ही इसमें सभी तरह के पोषक तत्व होते हैं.  

पाचन संबंधी बीमारियों से छुटकारा

कीवी फाइबर का एक अच्छा-खासा सोर्स है. जो पाचन संबंधी समस्याओं से निजात दिलाता है.  सर्दियों में डाइट में ज्यादा से ज्यादा फाइबर को शामिल करनी चाहिए ताकि कब्ज जैसी परेशानियों से छुटकारा मिल सके. 

कीवी खाने से दिल रहता है हेल्दी

कीवी में मौजूद पोटेशियम और फाइबर दिल की बीमारी के जोखिम को दूर करता है. पोटेशियम हाई बीपी को कंट्रोल करने में मदद करता है, जबकि फाइबर कोलेस्ट्रॉल के स्तर को प्रबंधित करने में सहायता करता है, जिससे हृदय संबंधी समस्याओं का खतरा कम होता है.

कीवी एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होता है

कीवी पॉलीफेनोल्स और विटामिन सी सहित एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होता है.  जो शरीर में मुक्त कणों को बेअसर करने में मदद करता है. एंटीऑक्सिडेंट कोशिकाओं को ऑक्सीडेटिव तनाव से बचाने और समग्र स्वास्थ्य का समर्थन करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं.

हड्डियों के स्वास्थ्य के लिए विटामिन K

कीवी में विटामिन K होता है, जो हड्डियों के स्वास्थ्य के लिए महत्वपूर्ण पोषक तत्व है. विटामिन K उचित कैल्शियम अवशोषण और हड्डियों को मजबूत बनाने का काम करता है. 

नैचुरल तरीके से स्ट्रेस को करता है कम

कीवी में मौजूद मैग्नीशियम तंत्रिका तंत्र पर शांत प्रभाव डाल सकता है. अपने आहार में मैग्नीशियम युक्त खाद्य पदार्थों को शामिल करने से तनाव कम करने और विश्राम को बढ़ावा देने में मदद मिल सकती है. 

यह भी पढ़ें: बच्चा विकलांग न पैदा हो जाए इसके लिए प्रेगनेंसी में रखें इन बातों का ध्यान, वरना बाद में पड़ेगा पछताना

Check out below Health Tools-
Calculate Your Body Mass Index ( BMI )

Calculate The Age Through Age Calculator

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *